जानिये मूलांक के बारे में ..

मूलांक और भाग्यांक हमारी लाइफ में बड़ा महत्व रखते हैं। कई बार हमें जन्म का समय या स्थान मालूम नहीं होता। ऐसे में कुंडली बना पाना कठिन हो जाता है। मूलांक उन लोगों के लिए एक सटीक आधार है। अपने बारे में जानने का और भविष्य में घटने वाली घटनाओं का अनुमान लगाने का अंक ज्योतिष एक सरल माध्यम हो सकता है।

मूलांक

मूलांक का अर्थ है आपके जन्म की तारीख। यानि यदि आपका जन्म 2 मार्च को हुआ है तो आपका मूलांक 2 होगा। मूलांक हमारे स्वभाव, प्रकृति, गुण,दोष आदि के बारे बताता है। हमारे लिए जीवन में क्या उपयोगी है और क्या अनुपयोगी, यह मूलांक से ही जाना जाता है। यह आपके मित्र और शत्रुओं के बारे में भी बताता है।

आपके करियर, जीवनसाथी, कार्यक्षेत्र और भाग्योदय की भी जानकारी देता है। मूलांक 1 से 9 तक माने जाते हैं। जिन लोगों का जन्म 9 से अधिक संख्या वाली तारीख को हुआ है वे अपने जन्मदिनांक को आपस में जोड़कर मूलांक पा सकते हैं। जैसे जिनका जन्म 11 तारीख को हुआ है उनका मूलांक 2 होगा। (1+1=2)। इसी तरह अन्य मूलांक आपस में जोड़कर निकाले जा सकते हैं।

(1.) जिसका जन्म 1,10,19,28 को हुआ हो, उसका मूलांक एक होता है। गुस्सा जल्दी आता है।

(2.) जिसका जन्म 2,11,20, 29 को होता है, उसका मूलांक दो होता है। ये चंचल स्वभाव के होते हैं, स्थिर नहीं रहते । इनका मन एक स्थान पर स्थिर नहीं रहता।

(3.) जिसका जन्म 3,12,21,30 को होता है, उसका मूलांक तीन होता है। ज्ञानी और स्पष्टवादी होते हैं। कला के प्रति रुझान होता है।

(4.) जिसका जन्म 4,13,22,31 को होता है, उसका मूलांक चार होता है। ये लोग मेहनती होते हैं। अनुशासनप्रिय होते हैं ,एक जगह शान्त नहीं बैठते।

(5.) जिसका जन्म 5,14,23 को होता है, उसका मूलांक पाँच होता है। मिल-जुलकर रहना पसन्द करते हैं।

(6.) जिसका जन्म 6,15,24 को होता है, उसका मूलांक छः होता है। इनकी सौन्दर्य के प्रति रुचि होती हैं।

(7.) जिसका जन्म 7,16,25 को होता है, उसका मूलांक सात होता है। धोखों का सामना करना पडता है। ये स्वभाव से मिलनसार ,अच्छे होते हैं।

(8.) जिसका जन्म 8,17,26 को होता है, उसका मूलांक आठ होता है। लोग रहस्मयवादी प्रवृत्ति।

(9.) जिसका जन्म 9,18,27 को होता है, उसका मूलांक नौ होता है। बहुत जल्दी उत्तेजित भी हो जाते हैं।

Please follow and like us:
error

Related posts:

मूलांक के अनुसार औषधियों और वनस्पतियों का उपयोग
मात्र 7 दिन में खुशियों से झोली भर देंगे गणेश जी के यह 3 मंत्र
वैभव लक्ष्मी जी का व्रत करके धनवान बनने का उपाय
भारतीय समाज में त्योंहारो का महत्व
जानिये आम के पत्तों को इतना शुभ क्यूँ माना जाता है
वास्तु दोष कितने प्रकार के होते है और उनको दूर करने के उपाय
शिव जी को प्रसन्न करने वाला सोलह सोमवार का व्रत के नियम
व्रत रखते समय किन -किन बातों का ध्यान रखे
घर से नकारात्मक ऊर्जा को कैसे भगाएं
घर में सकारात्मक उर्जा को कैसे बनाये रखें
जानिये लोग भूत प्रेंतों में विश्वास क्यों करतें है
मनी प्लांट का पेड़ धन की वर्षा वाला क्यूँ मन जाता है
जानें स्वस्तिक इतना शुभ क्यूँ माना जाता है
क्यूँ ओम इतना महत्त्व्शाली है
घर में लक्ष्मी के आगमन के लिए कौन -कौन से तरीके अपनाएँ
जाने , श्री विष्णु जी को हम कैसे खुश कर सकते है
प्रथम पूज्यनीय गणेश जी को कैसे प्रसन्न किया जाए
इन फलाहारी चीजों का सेवन करने से आप नवरात्री के दिनों में भी स्वस्थ रह सकते है