थाईराइड एक ऐसी बीमारी है जिसमे महिलायों की संख्या अधिकतर होती है। यदि आपको थाईराइड की बिमारी है। तो इसे जल्दी ही ठीक  करने का प्रयास करना चाहिए। क्युकी इस बिमारी के रहते आपको दूसरी बिमारियो का भी सामना करना पड़ सकता है। इस बिमारी के होने पर व्यक्ति का शरीर घटता है। या तो बढ़ जाता है। इससे अलग अलग बिमारिया उत्पन्न हो जाती है। थाइरोइड ग्रंथि से ठीक से काम न करना पर आपको थाईराइड जैसी बिमारी का सामना करना पड़ता है। इस बिमारी को आप घरेलू उपायों के द्वारा भी ठीक कर सकते है। बस आपको कुछ घरेलू उपाय करने होंगे।

लौकी

थाईराइड की बिमारी से बचने के लिए आप लौकी का भी सेवन कर सकते है। लौकी का जूस पीने से आपको बहुत फायदा होगा। यदि आप एक हप्ते तक लौकी का सेवन करे। तथा लौकी का जूस पिए। तो आपकी थाईराइड समस्या खत्म हो जाएगी। रोजाना सुबह आपको खाली पेट एक गिलास ओउकी का जूस पीना चाहिए।

काली मिर्च

यदि आप थाईराइड से जल्दी छुटकारा पाना चाहते है। तो आपको काली मिर्च का सेवन तुरंत ही शुरू करना चाहिए। काली मिर्च का सेवन आप किसी भी तरह कर सकते है। काली मिर्च के सेवन से आपका बढ़ा हुआ थाईराइड कंट्रोल में आ जायेगा। काली मिर्च चाय में डालकर भी पी सकते है। इससे आपको बहुत फायदा होगा।

हरी धनिया

हरी धनिया भी कुछ बीमारियों को ठीक करने में मददगार रही है। इसके सेवन से आप थाईराइड की समस्या को दूर कर सकते है। हरी धनिया को धो कर बारीक पीस कर इसकी चटनी बनाने के बाद आप इसे रोज इस चटनी को एक गिलास पानी में घोलकर पीने से आपको समस्या का समाधान हो जायेगा। तथा इससे थाईराइड को कंट्रोल में किया जा सकता है।

फलो का जूस

फलो का रस पीने से आपको बहुत फायदा होता है। ये तो सभी जानते है क्युकी फल खाने से हमारे शरीर को ताकत मिलती है। और फलो के जूस को पीने से भी आपके शरीर को तंदरुस्ती मिलती है। थाईराइड के रोगी को रोजाना एक गिलास मौसमी का जूस पीना चाहिए। इससे थाईराइड को कंट्रोल में किया जा सकता है।

मुलेठी

थाईराइड के रोगी को कुछ भी करने के बाद थकान का अनुभव बहुत जल्दी होने लगता है। थाईराइड के रोगी कुछ भी कार्य करने पर तुरंत थक जाते है। इस थकान को दूर करने के लिए आपको मुलेठी का इस्तेमाल करना चाहिए।  मुलेठी के सेवन से थाईराइड में कैंसर को बढ़ने से रोका जा सकता है।  इसलिए आपको मुलेठी का सेवन अवश्य करना चाहिए।

अदरक

अदरक प्रत्येक बीमारी को ठीक करने में सबसे बड़ा योगदान देती है।  अदरक के सेवन से थाईराइड को कंट्रोल में किया जा सकता है।  इसमें मौजूद गुण थाईराइड के लिए बहुत ही फायदेमंद होते है।  इसका सेवन आप अपने आहार में किसी तरह कर सकते है। अदरक की चाय पीने से भी आपको बहुत लाभ होता है।

दूध व दही

जिन लोगो को थाईराइड की समस्या है। उन्हें दूध व दही का सेवन अवश्य करना चाहिये। क्युकी इसमें मौजूद कैल्शियम, मिनिरल्स व विटामिन्स से थाईराइड के रोगी को स्वस्थ रखने में मदद करते है। इसलिए प्रतिदिन थाईराइड को मरीजो को दूध व दही का सेवन जरुर करना चाहिये। जिससे थाईराइड जैसी बिमारी को कंट्रोल में किया जा सके।  तथा इसे जड़ से भी खत्म किया जा सके।

(Visited 15 times, 1 visits today)