माइग्रेन एक गंभीर बीमारी है जिसका समय रहते उपचार होना जरूरी है। माइग्रेन में रोगी को बेचैन कर देने वाला दर्द होता है। माइग्रेन को कई नामों से जाना जाता है। इसे आधे सिर का दर्द, सुदाअ निस्फी, शकीका आदि भी कहा जाता है। कई बार दवाइयों से भी माइग्रेन का दर्द कम नहीं होता है। यह दर्द सुबह से ही शुरू हो जाता है। और दिन में यह दर्द काफी तेज हो जाता है। लेकिन माइग्रेन को सफल घरेलू उपचार के जरिए ठीक किया जा सकता है। यह दर्द में राहत देता है। माइग्रेन किस वजह से होता है यह भी जानना जरूरी है 

aadhe sir ka dard

आइये जानते है आधे सिर के दर्द को घरेलु उपचार द्वारा कैसे ठीक किया जाएँ –

.1 सूर्योदय से पूर्व नारियल एवं गुड़ के साथ छोटे चने बराबर मात्रा में कपूर मिलाकर तीन दिन खाने से आधा सिर दर्द मिटता है।

2.सूर्य उगने से पहले रोगी को दही में पका हुआ चावल खिलाने से आधे सिर का दर्द ठीक हो जाता है

3.  दही, चावल व मिश्री मिलाकर सूर्योदय से पहले खाने से सूर्योदय के साथ बढ़ने-घटने वाला सिरदर्द ठीक हो जाता है। यह प्रयोग कम-से-कम छः दिन करें।

4. नींबू के छिलके पीस कर पैस्ट बना ले और इसे माथे पर लगाए। इस उपाय से भी आधा सीसी सिर दर्द की समस्या से जल्दी निजात मिलती है।

5.  माइग्रेन के इलाज में कुछ लोगों को ठंडी चीज़ से आराम मिलता है और कुछ को गरम से। अगर आपको गरम से आराम मिलता है है तो गरम पानी प्रयोग करे और ठंडे से आराम मिलता है ठंडे पानी में तोलिये को भिगो कर कुछ देर दर्द वाले भाग पर रखे। कुछ देर में ही माइग्रेन से राहत मिलने लगेगी।

6. यदि दर्द सूर्योदय के साथ बढ़ता-घटता हो तो सुबह सूर्य निकलने से पहले एक बताशे पर 2 बूंद आकड़े का दूध टपकाकर खाना चाहिए।

7. रोगी को सिर में देसी घी से मालिश करवानी चाहिये तथा गाय के दूध में कालीमिर्च का पाउडर मिलाकर पीने से आराम मिलता है ।

 

(Visited 12 times, 1 visits today)