खून की कमी, रक्ताल्पता या रक्तहीनता भी कहा जाता है। एनीमिया तब होता है जब रक्त में RBC  की मात्रा सामान्य से कम हो जाये। रेड ब्लड सेल्स में हीमोग्लोबिन नामक आयरन युक्त प्रोटीन होता है जो रक्त कोशिकायों को ऑक्सीजन ले जाने में मदद करता है। परन्तु एनीमिया होने पर हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है और शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाती।

सिकल सेल एनीमिया के साथ रोगियों की जरूरत है एक स्वस्थ आहार, फोलिक एसिड, विटामिन डी और जस्ता की खुराक और संकट के लिए ट्रिगर से बचें। इसमें शामिल हैं धूम्रपान, शराब,निर्जलीकरण, ठंडे और गर्म तापमान, कपड़े आदि में बाधा। सिकल सेल रक्ताल्पता लिए कोई इलाज नहीं है, लेकिन आवृत्ति और संकट और उनके जटिलताओं की गंभीरता को कम किया जा सकता है।

AENIMIYA

एनीमिया से बचने के आठ घरेलु उपाय –

1.लौह लोहे में अमीर आहार लेने के द्वारा प्रतिस्थापित किया जा सकता। यह अंधेरे हरी पत्तेदार सब्जियों, लोहे गढ़वाले ब्रेड और अनाज, सेम, मांस, पागल, खूबानी, किशमिश, तिथियाँ आदि शामिल हैं।

2. बचपन, किशोरावस्था, गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान आयरन की अधिक आवश्यकता होती है। अगर इन चरणों में आयरन की मात्रा में वृद्धि नहीं की, तो एनीमिया का जोखिम हो सकता है।इसलिए अपने भोजन में पौष्टिक तत्वो को अवश्य शामिल करें ।

3. एक कप अनार के जूस मे दो चम्मच शहद और दालचीनी का पाउडर मिलाकर पीने से आप एनीमिया से बच सकतें है ।

4. हर रात सोने से पहले एक कप दूध  में दो खजूर डालकर रख दें सुबह दूध  के साथ खजूर को खा ले इससे आप एनीमिया से बाख सकतें है ।

5. एनीमिया से बचने के लिए रोज अपने भोजन सलाद को शामिल करें ।

6. एक कप चावल में दो चम्मच मेथी पकाकर एक हफ्ते तक खाने से एनीमिया से राहत मिलती है ।

7. बकरी के दूध का एक महीने तक सेवन करने से एनीमिया समाप्त हो जाता है ।

8. प्रतिदिन अपने भोजन में हरी सब्जियों और फलों को शामिल करें। इससे आपको एनीमिया से आराम मिलेगा ।

 

 

(Visited 9 times, 1 visits today)