अगर आपको स्वस्थ जिंदगी जीनी है तो रोज सुबह काला नमकऔर पानी मिला कर पीना शुरु कर दें। जी हां, इस घोल को सोल वॉटर कहते हैं, जिससे आपकी ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर,ऊर्जा में सुधार, मोटापा और अन्य तरह की बीमारियां झट से ठीक हो जाएंगी।भारतीय काला नमक आयुर्वेदिक चिकित्सा में एक मसाले के रूप में माना जाता है, यह कब्ज, पेट की ख़राबी, सूजन, पेट फूलना, गण्डमाला, हिस्टीरिया, मोटापा, उच्च रक्तचाप, थाइरोइड, चरम रोगों के साथ साथ कमज़ोर दृष्टि के रोगियों के लिए बहुपयोगी है.

काला नमक के बड़े फायदे –black salt

 

अगर आपकी त्वचा रूखी है और बहुत खुजली हो रही है तो काले नमक के पानी से नहाना  आपको बहुत लाभ पहुंचाएगा।

अगर आपकी त्वचा रूखी है और बहुत खुजली हो रही है तो काले नमक के पानी से नहाना  आपको बहुत लाभ पहुंचाएगा।

यह पाचन को दुरस्त कर के शरीर की कोशिकाओं तक पोषण पहुंचाता है, जिससे मोटापा कंट्रोल करने में मदद मिलती है।नींद लाने में लाभदायक है।

फटी एडियों के लिये एक गरम पानी की बाल्टी में काला नमक डाल कर पैरों को डुबोइये। इससे आपकी एडियां ठीक हो जाएंगी।

अपरिष्कृत नमक में मौजूदा खनिज हमारी तंत्रिका तंत्र को शांत करता है। नमक, कोर्टिसोल और एड्रनलाईन, जैसे दो खतरनाक स्ट्रेस  हार्मोन को कम करता है। इसलिये इससे रात को अच्छी नींद लाने में मदद मिलती है।

काले नमक के सेवन से नींद बहुत अछि आती है

नमक में मौजूद क्रोमियम एक्‍ने से लड़ता है और सल्फर से त्वचा साफ और कोमल बनती है। इसके अलावा नमक वाला पानी पीने से एग्जिमा और रैश की समस्या दूर होती है।

Please follow and like us:
error

Related posts:

अगर आप भी हैं, कान बहने की समस्या से परेशान है तो ये ये करें
क्या आप को पता है, कॉम्बीफ्लेम टैबलेट किस तरह से आप के शरीर को खोखला बनाती है
आँखों की देखभाल
घर पर फिंगर चिप्स कैसे बनायें
कच्चे केले के चिप्स कैसे बनाये
आम के पत्ते के 10 ओषधिय फायदे
केले के 8 असरदार फायदे
जानियें दाँतों का पीलापन दूर करने के दस बेहतरीन उपाय
संतरे के फायदे तथा उपचार --
मसाज से पहले किन -किन बातों का ध्यान रखें
टीबी को दूर करने के घरेलु नुस्खे
नवरात्रि में दुर्गा माँ को कैसे प्रसन्न करें
अरण्डी के तेल के बेहतरीन फायदे
चांदी ,ताम्बे के बर्तनों को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे चमकाएं
जायफल के बेहतरीन फायदे
घरेलु नुस्खों द्वारा फटे हुए होंठों के लिए लिप बाम कैसे बनायें
आइब्रो को बनवाते समय किन -किन बातों का ध्यान रखें
भारतीय साड़ी ,एक संस्कृति एक परम्परा