इन फलाहारी चीजों का सेवन करने से आप नवरात्री के दिनों में भी स्वस्थ रह सकते है

नवरात्रि का मतलब पूरे नव दिन माता के नाम से ही हम मनाते  है और हम सभी माता के यह नव दिन बहुत ही धूम -धाम से मनाते है।जहाँ नवरात्र कुछ लोगो के लिए व्रत होता है। वहीँ कुछ लोग इस त्यौहार को खाने पीने के उत्सव के रूप में मनाते हैं।पर कुछ लोग नवरात्री के त्यौहार में अपनी सेहत का अच्छे से ध्यान नहीं रख पातें है ।जिससे उनके स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर होता है जो उनके स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होता है ।

navraatr me kaun se flaahaar se aap swasth rah skte hai

आइये जानते है की किन फलाहारी आहार की वजह से आप नवरात्री के दिनों में भी स्वस्थ रह सकते है 

नवरात्र के दिनों में व्रत है तो सबसे पहले अपने दिन की शुरुआत ग्रीन टि के साथ करे यह आपको स्वस्थ रखने में मदद करेगी। तथा आपको  हमेशा फुर्तीलापन व ताजगी महसूस होगी ।

थोड़े – थोड़े समय के पश्चात थोडा सा द्रव्य पदार्थ का सेवन करते रहे आप जूस या किसी शरबत का प्रयोग भी कर सकतें है। इससे आपको आवश्यकता की उर्जा मिलती रहेगी।जिससे आपको थकान का अनुभव नहीं होगा ।

व्रत में उर्जा को बनाये रखने के लिए अपने भोजन में सिमित तौर पर कार्बोहाइड्रेट का इस्तेमाल करें ।इसके लिए अपने नाश्ते में आलू ,घी ,सीताफल आदि का सेवन करें ।इनमे कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्र में उपस्थित होता है ।

अगर आप व्रत वाले चिप्स, फ्रूट चाट या खीरे का रायता खाने के तौर पर लेते हैं ।तो वह आपके लिए ज्यादा फायदेमंद साबित होगा।.आप इसका घर पर ही सेवन करें ।आप घर पर नमकीन के लिए स्नैक्स का भिओ इस्तेमाल कर सकतें है। इन्हे आप घर पर भी बना सकतें है ।

शरीर में पानी की मात्रा का विशेष  मात्रा बनायें रखने के लिए व्रत में ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए।. साथ ही शरीर में पानी की कमी को पूरा करने के लिए नारियल पानी, नींबू पानी, ग्रीन टी और छाछ का भी सेवन किया जा सकता है।

आप भोजन के समय साबूदाने की खिचड़ी और एक गिलास छाछ ले सकते हैं. ।अगर आपको बीपी की समस्या है तो आप सेंधा नमक भी इस्तेमाल कर सकते हैं ।इससे बिपि की समस्या भी समाप्त हो जायेगी तथा आपको भरपूर मात्रा में ऊर्जा प्राप्त होगी ।

हर रात को सोने से पहले एक गिलास हल्का गुनगुना दूध पीना अच्छा रहेगा इससे आपका स्वास्थ्य भी हमेशा स्वस्थ रहेगा। और आपको भरपूर मात्रा में ऊर्जा भी प्रदान होती रहेगी ।

 

Related posts:

मूलांक के अनुसार औषधियों और वनस्पतियों का उपयोग
दादी माँ के घरेलू नुख्से | नानी माँ के नुस्खे | आयुर्वेदिक घरेलू उपाय
अदरक के दस बेहतरीन फायदे
एक स्वस्थ जीवन जीने के उपाय -
जानिये आम के पत्तों को इतना शुभ क्यूँ माना जाता है
काली खांसी को घरेलु उपाय द्वारा कैसे दूर करें
व्रत रखते समय किन -किन बातों का ध्यान रखे
घर से नकारात्मक ऊर्जा को कैसे भगाएं
मनी प्लांट का पेड़ धन की वर्षा वाला क्यूँ मन जाता है
मसूढ़ों की सूजन घरेलु उपाय द्वारा कैसे दूर करें
गले के दर्द से आराम कैसे पायें
मिर्गी को दूर करने के घरेलु उपाय
जाने , श्री विष्णु जी को हम कैसे खुश कर सकते है
निकली हुई तोंद को घरेलू नुस्खों द्वारा कैसे गायब करें
घड़े के पानी पीने के स्वास्थ्य के प्रति बेहतरीन फायदे
पेट के कीड़ों को आसानी से समाप्त करने के घरेलु नुस्खे
भीगे हुए चने के स्वास्थ्य के प्रति बेहतरीन फायदे
बुखार को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे कम किया जाए
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *