बच्चे हो या बड़े गला ख़राब होने की समस्या आम है। गले में दर्द के इलावा गले के छाले, गला बैठ जाना, बलगम, खांसी, खराश और सूजन कुछ अन्य गले के रोग है जिसके उपचार के लिए लोग दवा और कफ सिरप लेते है पर कई बार ट्रीटमेंट करने के बाद भी आराम नहीं मिलता। घरेलु तरीके से इलाज करके भी गले के इंफेक्शन से छुटकारा पा सकते है।जानें कि आपके गले का दर्द कितना गंभीर है: गले का तीव्र दर्द  सामान्यतः गले के संक्रमण का पहला चिन्ह होता है | अगर आपको मध्यम प्रकार का गले का दर्द हो तो भी आपको गले का संक्रमण हो सकता है, लेकिन गले का हल्का दर्द जो आसानी से ठीक हो जाये या शांत हो जाये, एंटीबायोटिक्स के प्रभाव के समय आराम और विश्राम करते रहें सामान्यतः एंटीबायोटिक्स लेने के साथ-साथ रिकवरी भी होती जाती है|

gale ka dard

आइये जानते है की गले के दर्द से आराम कैसे पाये-

गले के दर्द के उपाय, नमक को एक ग्लास पानी में मिलायें। इस पानी के गरारे करने से गले का दर्द ठीक होता है। नमक एंटीसेप्टिक का काम करता है|

नीबू के रस को पानी में मिलाएं| इस पानी के गरारे करने से भी गले का दर्द ठीक होता है। नीबू के रस में चुटकी भर नमक और 4-5 चम्मच काली मिर्च का पाउडर डालें। इस मिश्रण को अच्छे से मिला लें।

नीलगिरी के तेल में एंटी-वायरल,एंटी-माइक्रोबियल और एंटी बैक्‍टीरियल जैसे गुण इसे कंठमाला में जलन को शांत करने का सबसे सर्वात्तम उपाय बनाते है। नी‍लगिरी के तेल को उपयोग करने का सबसे अच्‍छा तरीका है कि आप इसकी भाप लें।

अदरक, गले के चारों ओर श्लेष्मा झिल्ली को शांत कर, सूजन से तुरंत राहत प्रदान करता है। समस्‍या होने पर एक पैन में कटा हुआ अदरक उबाल लें और कुछ देर उबालने के बाद इसे थोड़ा ठंडा होने के लिए रख दें। आप इसमें नींबू के रस की कुछ बूंदे और मीठा करने के लिए शहद मिला सकते हैं। इस अदरक की चाय का सेवन दिन में कई बार करें।

गले में दर्द के उपाय, 3 चम्मच मेथी दाना लें और और 6 कप पानी में लिए दे। इस मिश्रण को 20 मिनट तक उबाल कर छान लें|

इन उपायों के बीच अपने गले को समुचित आराम दें। कम बोलें और तेज बोलने से बचें। क्‍योंकि तेज बोलने से पहले से ही सूजन क्षेत्रों में दबाव पड़ सकता है।

सेब साइडर सिरका,बैक्‍टीरिया के कारण होने वाली कण्‍ठमाला की सूजन के खिलाफ बहुत कारगर उपाय है। इसके लिए एक कप पानी में दो बड़े चम्‍मच सेब साइडर सिरका और थोड़ा सा शहद मिलाकर इस मिश्रण को एक दिन में दो बार पीए

(Visited 9 times, 1 visits today)