हरी बीन्स एक ऐसी सब्जी है जिसके इस्तेमाल से आपके शरीर की पौष्ट‍िक आवश्यकताओं की पूर्ति आसानी से हो जाती है। कई फायदेमंद खनिजों से परिपूर्ण हरी बीन्स में पर्याप्त मात्रा में विटामिन ए, सी, के और बी 6 पाया जाता है. ये फॉलिक एसिड का भी एक अच्छा स्त्रोत हैं।

बीन्स के फायदे

इसके अलावा इनमें कैल्श‍ियम, सिलिकॉन, आयरन, मैगनीज, बीटा कैरोटीन, प्रोटीन, पोटैशियम और कॉपर की भी जरूरी मात्रा होती है। पर सबसे बड़ी बात यह कि बाकी हरी सब्ज‍ियों की तरह ही इसके सेवन से भी वजन कम करने में मदद मिलती है। यह एक ऐसी सब्जी है जिसे कहीं भी आसानी से उगाया जा सकता है और यह लगभग पूरे साल बाजार में उपलब्ध होती है।

हरी बीन्स खाने के सात चमत्कारिक फायदे :-

1. डायबिटीज रोकने में
हरी बीन्स में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो डायबिटीज को बढ़ने से रोकते हैं। इसमें पर्याप्त मात्रा में डायट्री फाइबर्स और कार्बोहाइड्रेट्स पाए जाते हैं। मधुमेह के मरीजों के लिए इसे आदर्श सब्जी माना जाता है।

2. हड्ड‍ियों की मजबूती के लिए
बीन्स में कैल्शियम पाया जाता है, जो हड्डियों के क्षरण को रोकता है. इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए, के और सिलिकॉन भी हड्ड‍ियों के लिए फायदेमंद होते हैं। इन पोषक तत्वों की कमी होने पर हड्ड‍ियां कमजोर हो जाती हैं।

3. इम्यून सिस्टम को बेहतर रखने के लिए
हरी बीन्स में पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जिससे इम्यून सिस्टम बेहतर बनता है। ये कोशिकाओं की क्षति को ठीक करके नई कोशिकाओं के बनने को प्रोत्साहित करता है।

4. आंखों के स्वास्थ्य के लिए
हरी बीन्स में कैरोटीनॉएड्स मौजूद होते हैं जो आंखों के अंदरूनी हिस्से के तनाव को कम करने का काम करते हैं। इसके अलावा इसमें मौजूद कई तरह के लवणों से आंखों की रोशनी भी बेहतर बनती है।

5. कोलोन कैंसर से बचाव के लिए
हर रोज हरी बीन्स के सेवन से एक खास किस्म के कोलोन कैंसर के होने का खतरा कम हो जाता है।

6. दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए
फ्लेवेनॉएड्स की मौजूदगी की वजह से बीन्स दिल के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं। इनके नियमित सेवन से दिल से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कम हो जाता है। साथ ही ये खून का थक्का नहीं जमने देते।

7. पेट को रखते हैं स्वस्थ
बीन्स के नियमित सेवन से पेट भी स्वस्थ रहता है। इनके सेवन से पाचन संबंधी समस्याएं होने का खतरा कम हो जाता है और गैस, कब्ज और मरोड़ की परेशानी नहीं होती है।

 

(Visited 17 times, 1 visits today)