आजकल मधुमेह एक आम समस्या बन गई है। कई लोगों में यह बीमारी शुरू में हो जाती है लेकिन, उनको इस बात का पता नहीं चल पाता है जिसके कारण यह बीमारी बहुत ही खतरनाक हो जाती है। दरअसल डायबिटीज लाइफस्टाइल संबंधी या वंशानुगत बीमारी है। जब शरीर में पैंक्रियाज नामक ग्रंथि इंसुलिन बनाना बंद कर देती है तबमधुमेह की समस्या होती है। इंसुलिन ब्लड में ग्लूकोज को नियंत्रित करने में मदद करता है।

मधुमेह ऐसी बीमारी है जो एक बार किसी के शरीर को पकड़ ले तो उसे फिर जीवन भर छोड़ती नहीं। इस बीमारी का जो सबसे बुरा पक्ष है वह यह कि यह शरीर में अन्य कई बीमारियों को भी निमंत्रण कर  देती है।डायबिटीज मेलेटस (डीएम), जिसे सामान्यतः मधुमेह कहा जाता है, यह उपापचय  संबंधी बीमारियों का एक समूह है जिसमें लंबे समय तक उच्च रक्त शर्करा का स्तर होता है। उच्च रक्त शर्करा के लक्षणों में अक्सर पेशाब आना होता है, प्यास की बढ़ोतरी होती है, और भूख में वृद्धि होती है। यदि अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, मधुमेह कई जटिलताओं का कारण बन सकता है। तीव्र जटिलताओं में मधुमेह केटोएसिडोसिस, नॉनकेटोटिक हाइपरोस्मोलर कोमा, या मौत शामिल हो सकती है।

डायबिटीज मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है – टाइप – 1 डायबिटीज जिसमें हमारा शरीर इन्सुलिन उत्पादित नहीं करता और टाइप -2 डायबिटीज जिसमे हमारा शरीर इन्सुलिन उत्पादित तो करता है लेकिन वह काफी नहीं होता या वह ठीक से अपना काम नहीं करता।

madhumeh

आइये जानतें है मधुमेह के लक्षण –

जब शरीर में ज्यादा मात्रा में शुगर इकट्ठा हो जाता है तो यह पेशाब के रास्ते से बाहर निकलता है, जिसके कारण मधुमेह रोगी को बार-बार पेशाब लगने की शिकायत शुरू हो जाती है।

जरूरी ग्लूकोस का मांशपेशियों में न पहुच पाने की वजह से व्यक्ति अपने आप को बहुत थका -थका महसूस करता है जिससे उसका चिडचिडापन बढ़ जाता है ।

मधुमेह का खून के दौरे पर प्रभाव पड़ने की वजह से त्वचा में रूखापन भी आ सकता  है ।

मधुमेह की समस्या होने पर आँखों की द्रष्टी प्रभावित होती है जिससे आँखों को सब -कुछ धुंधला दिखाई पड़ता है ।

मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति को प्यास ज्यादा लगने लगती है ।

उर्जा की कमी होने के कारण भूख ज्यादा लगती है ।

शर्करा का स्तर सही न होने के कारण घाव भरने में समय लगता है ।

मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति को यीस्ट इन्फेक्शन की समस्या हो सकती है ।

मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति का वजन अचानक से कम होने लगता है ।

मधुमेह से ग्रस्त व्यक्ति का ब्लड प्रेशर अधिकतर हाई रहता है ।

(Visited 2 times, 1 visits today)