दोस्तों, आप ने मदार के पौधे के बारे में जरूर सुना होगा। इसको अलग-अलग क्षेत्रों में मदार, आक, अर्क ,अकौआ या आकड़ा भी कहते हैं। मदार का वानस्पतिक नाम calotropis gigantea होता है। यह एक अति उपयोगी औषधीय पौधा होता है। इसका पौधा छोटे पेड़ की तरह और छत्तादार होता है। इसके पत्ते बरगद के पत्तों की तरह मोटे होते हैं और इसके पत्ते हरे रंग के सफेदी लिये होते है। इसके पत्ते पकने पर पीले रंग के हो जाते हैं। इसका फूल सफेद छोटा और छत्तादार होता है। इसके फूल पर रंगीन चित्तियाँ होती हैं। फल आम के सामान होते हैं और इनमें रूई होती है। इसके पत्तों और शाखाओं को तोड़ने पर दूध निकलता है। यह दूध बहुत विषैला होता है। मदार अक्सर गर्मी के दिनों में रेतिली भूमि पर होता है। चौमासे में पानी बरसने पर सूख जाता है। मदार के पौधे शुष्क, उसर और ऊँची भूमि में प्रायः सर्वत्र देखने को मिलते हैं।
madar ke patte
इस वनस्पति के विषय में साधारण समाज में यह भ्रान्ति फैली हुई है कि यह पौधा बहुत विषैला होता है, इसीलिए इससे दूर रहो, यह मनुष्य को मार डालता है। यह बात कुछ हद ठीक तो जरूर है परन्तु आयुर्वेद संहिताओं में भी इसकी गणना उपविषों में की गई है। यदि इसका सेवन अधिक मात्रा में कर लिया जाये तो, उल्दी दस्त होकर मनुष्य की मृत्यु हो सकती है। इसके विपरीत यदि इसका सेवन सही मात्रा में,सही तरीके से, अच्छे वैद्य की निगरानी में किया जाये तो अनेक रोगों को इसकी सहायता से जड़ से समाप्त किया जा सकता है।
मदार की जड़ अक्‍सर गणेश जी की आकृति में स्‍वत: बन जाती हैं। अनेक स्‍थलों पर मदार गणेश की मूर्तियां मिल जाएंगी। इनकी पूजा से सभी मनोकामनाएं सिद्ध होती हैं। मदार के पौधे में गणेश जी का वास माना जाता है। जिस घर में यह पौधा लगा होता है, वहां किसी भी प्रकार के तंत्र-मंत्र या जादू-टोने का असर नहीं होता है। मदार के पौधे में मोच, चोट और सूजन को अतिशीघ्र ठीक करने का अदभुत गुण होता है। अगर आपको कभी मोच चोट या सूजन की समस्या हो जाये तो आप अपने घर के आस-पास मदार का पौधा ढूढें उसकी कुछ हरी पत्तियां ले कर उनपे सरसो का तेल लगा कर गरम कर ले, फिर इन पतियों को जहाँ मोच चोट या सूजन की समस्या है वहां किसी सूती कपडे की सहायता से बांध ले और रात भर के लिए छोड़ दे सुबह सो के उठने के बाद आप काफी आराम महसूस करेंगे। इस उपाय को आप ४-५ दिन लगातार रोज करें, इस घरेलू उपाय से आप की मोच चोट और सूजन बिलकुल ठीक हो जाएगी। इस घरेलू उपचार के अपने अनुभव हमें कमेंट कर के बताएं।

Please follow and like us:
error

Related posts:

गले की खराश से तत्काल राहत पाने का घरेलू उपाय
कफ वाली खांसी का घरेलू इलाज १० मिनट मे असर नजर आये
बाबा रामदेव की आयुर्वेदिक दवाइयों और पतंजलि के ब्यूटी प्रोडक्ट्स की लिस्ट
लहसुन के फायदे
हरी धनिया के फायदे एवं उपयोग
बीमार बच्चों की देखभाल कैसे करें
घर को सजाये कैसे
आम के पत्ते के 10 ओषधिय फायदे
केले के 8 असरदार फायदे
जानियें दाँतों का पीलापन दूर करने के दस बेहतरीन उपाय
संतरे के फायदे तथा उपचार --
कमजोर हड्डियों को मजबूत कैसे बनायें
अरण्डी के तेल के बेहतरीन फायदे
चांदी ,ताम्बे के बर्तनों को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे चमकाएं
ग्रीन टी के स्वास्थ्य के प्रति बेहतरीन फायदे
भीगे हुए चने के स्वास्थ्य के प्रति बेहतरीन फायदे
घरेलु नुस्खों द्वारा फटे हुए होंठों के लिए लिप बाम कैसे बनायें
आइब्रो को बनवाते समय किन -किन बातों का ध्यान रखें