जाने भोजन करने का सही तरीका और सही समय क्या है

अगर हम सही तरीके से और सही समय पर भोजन करे तो कई प्रकार के रोगों से बच सकते है। इसका सबसे बड़ा फायदा ये है की शरीर का पाचन तंत्र सही रहता है और पेट के रोग नहीं होते है। सुबह पेट भर नाश्ता करे और खाने के बाद फलों का रस पिए। दोपहर का भोजन सुबह से थोड़ा हल्का ले और भोजन करने के बाद छाछ पिए। रात को देर से भोजन नहीं करना चाहिए। रात को खाना खाते ही सो जाने से खाना ठीक से पचता नहीं है। रात का खाना सोने से दो से तीन घंटे पहले ही कर ले और खाना हल्का ही खाना चाहिए।
Right way of eating

  • घर में इस्तेमाल होने वाले सफ़ेद नमक की जगह काला नमक, सेंधा नमक या डेले वाला नमक प्रयोग करना चाहिए। भोजन हमेशा जमीन पर चौकड़ी मारकर करे। कुर्सी पर बैठ कर और खड़े हो कर भोजन नहीं करना चाहिए। अगर हम 24 घंटे में 1 बार खाना खाये तो ये सही तरीके से पचता है और पाचन शक्ति भी कम नहीं होती है।
  • एल्युमिनियम के बर्तन में खाना पकाने की बजाय मिट्टी के बर्तन प्रयोग करे। एल्युमिनियम के बर्तन इस्तेमाल करने से टीबी, वात रोग, अस्थमा और मधुमेह जैसे रोग होने का खतरा अधिक होता है।
  • जब भी रोटी बनानी हो ताजा आटा गुंथे, कभी भी आटा गूँथ कर फ्रीज़ में न रखे। इसके इलावा 15 दिन से ज्यादा पुराने आटे के पोषक तत्व ख़त्म हो जाते है इसलिए महीने भर का आटा एक साथ ना पिसवायें।
  • चीनी एक तरह का सफ़ेद जहर है। चीनी की जगह गुड़ का सेवन करना ज्यादा अच्छा होता है। भोजन के बाद एक छोटी गुड़ की डली खाने से शरीर का पाचन अच्छा रहता है।
  • रिफाइंड आयल के सेवन से ब्लड प्रेशर, ह्रदय और कैंसर के रोग में वृद्धि हुई है। खाना पकने के लिए कच्ची घनी का तेल ही प्रयोग में लाये।
  • धूम्रपान, शराब और अन्य नशीले पदार्थों के सेवन से बचे । तंबाकू की जगह चूना खा सकते है। चूना शरीर के लिए अमृत सामान होता है।
  • पानी हमेशा बैठ कर और घूंट घूंट कर के पिए। खड़े हो कर पानी पिने से जोड़ों और घुटनों में दर्द होने का खतरा अधिक होता है।
  • सुबह उठने के बाद सबसे पहले 1 गिलास पानी पिए। ब्रश भी पानी पिने के बाद ही करे।
  • बाहर से घर आने पर सांस तेज होती है और शरीर भी गर्म होता है इसलिए ऐसी स्थिति में पानी नहीं पीना चाहिए। थोड़ी देर रुक कर शरीर का तापमान नार्मल होने पर पानी पिए।
  • खाना खाने के एक घंटे पहले पानी पिए इससे भोजन के दौरान प्यास नहीं लगेगी।
  • पथरी, किडनी के रोगों और मोटापा से बचने के लिए दिन में 3 से 4 लीटर पानी पिए।
  • भोजन करते समय और भोजन के बाद पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के एक घंटे बाद ही पानी पिए।
  • फ्रीज़ का ठंडा पानी पिने की बजाय हल्का गर्म पानी पिने की आदत बनाये इससे मोटापा कम करने में भी मदद मिलेगी और कब्ज़ जैसे रोग से भी बचे रहेंगे।

भोजन करने का सही तरीका और समय:- राजीव दीक्षित

Related posts:

राजीव दीक्षित के घरेलू नुस्खे और देसी उपचार | Rajeev Dixit Home Remedies
हरी बीन्स खाने के सात बड़े फायदे | 7 Big benefits of green beans
नाखुनो की साफ सफाई और सुरक्षा
एक स्वस्थ जीवन जीने के उपाय -
नीम का पेड़ पत्ती तथा उसके फायदे - Benefits & Uses of Neem
काली मिर्च के 5 फायदे // Five Benefits of Black pepper
एनीमिया से बचने के आठ बेहतरीन उपाय
गले के दर्द से आराम कैसे पायें
मिर्गी को दूर करने के घरेलु उपाय
विभिन्न रोगों के लिए कैसे लाभदायक है हरी मिर्च
थायराइड में वजन और मोटापा कैसे कम करें
बच्चों में दांत निकलने की समस्या को घरेलु उपचार द्वारा कैसे ठीक करें
पैरों की बदबू को कैसे घरेलु नुस्खों द्वारा समाप्त करें
मुहं की दुर्गन्ध को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे दूर करें
दुबले पतले लोग घरेलु नुस्खों द्वारा सेहत को कैसे बनाये
यूरीन इन्फेक्शन में घरेलु नुस्खों द्वारा आराम कैसे पायें
टिंडे के स्वास्थ्य के प्रति बेहतरीन फायदे
इन फलाहारी चीजों का सेवन करने से आप नवरात्री के दिनों में भी स्वस्थ रह सकते है
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *