जाने सरसों के तेल में सेहत का राज

हम सभी के घरों में सब्जी बनाने में सरसों के तेल का इस्तेमाल मुख्य रूप से किया जाता है। कुछ जगहों पर इसे कड़वा तेल के नाम से भी जाना जाता है। सरसों का तेल सेहत और सुंदरता दोनों के ही लिए बहुत फायदेमंद है।सरसों के तेल में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो दर्द नाशक का काम करते हैं। जोड़ों का दर्द हो या फिर कान का दर्द, सरसों का तेल एक औषधि की तरह काम करता है सरसों का तेल  सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता हैं। सरसों के तेल का इस्तेमाल न सिर्फ भोजन का स्वाद बढ़ाता हैं, बल्कि यह पुरे शरीर के लिए बेहद ही लाभकारी होता हैं। जब आपको सरसों के तेल के फायदे के बारे में पता चलेगा तो जरूर ही आप इसे अपने भोजन में इस्तेमाल करेंगे। सरसों का तेल खाने और लगाने दोनों तरीको से फायदेमंद होता हैं। सरसों का तेल शरीर के बहुत ही ज्यादा उपयोगी और रामबाण माना जाता हैं।

SARSONM KA TEL

आइये जानते है की सरसों के तेल में कौन से सेहत का राज छिपे है —

यह गहरा पीला रंग का तेल केवल खाने के लिए नहीं, बल्कि बॉडी मसाज, त्वचा, बालों से जुड़ी अनेक समस्याओं को समाधान करती हैं। इसके अलावा यह त्वचा में होने वाले किसी संक्रमण, शरीर के विषाक्त पदार्थों और रेशेज से लड़ने में मदद करता है।

अगर आपको भूख नहीं लगती है और इसके चलते आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है तो सरसों का तेल आपके लिए खासतौर पर फायदेमंद रहेगा. ये तेल हमारे पेट में ऐपिटाइजर के रूप में काम करता है जिससे भूख बढ़ती है.।

हम आपको बता दें कि सरसों के तेल से बेहतर सन्स्क्रीन कोई नहीं है। इसमें उच्च लेवल का विटामिन ई होता है जिसकी मदद से यह प्राकृतिक सन्स्क्रीन की तरह काम करता है। यह सूरज की हानिकारक किरणों से हमारी त्वचा को बचाता हैं।

सरसों के तेल में बालों को काला करने का गुण होता है तथा यह बालों को सफेद होने से बचाता है ।

अस्थमा से पीड़ि‍त लोगों के लिए सरसों का तेल खासतौर पर फायदेमंद होता है. सरसों में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, जो अस्थमा के मरीजों के लिए खासतौर पर फायदेमंद है. सर्दी हो जाने पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है.।

अगर आपके दांतों में दर्द है तो सरसों के तेल में नमक मिलाकर मसूड़ों पर हल्की मालिश करें. ऐसा करने से दांतों का दर्द दूर हो जाएगा और दांत भी मजबूत बनेंगे.।

बेसन में नींबू और सरसों का तेल मिला लें। इसके बाद इस पेस्ट को मिलाकर अपने चेहरे पर लगा लें, इसे 10 से 15 मिनट के लिए चेहरे पर लगा रहने दें और फिर चेहरा धो लें।

आपके होंठ सूखे और फटे हुए हैं तो ऐसे में आपको होठों पर लिपबाम लगाने की कोई जरूरत नहीं है। जी हां अगर आपको ऐसी कोई परेशानी हो तो आप रात को सोने से पहले अपने नाबी में सरसों का तेल लगा लें।

सरसों का तेल शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है. शरीर की अंदरुनी कमजोरी को दूर करने के लिए सरसों के तेल का नियमित सेवन करें. इससे मालिश करना भी फायदेमंद रहेगा.।

Related posts:

चुकंदर के फायदे और नुकसान एक नजर में // Chukandar Ke Fayede Aur Nuksaan
स्वस्थ रहना है तो, खाली पेट रहें इन चीजो से दूर
अंडे खानें के हैं शौकीन, तो जानें जरूरी बातें
अदरक के दस बेहतरीन फायदे
नाखुनो की साफ सफाई और सुरक्षा
दही का उपचार एवं प्रयोग एवं फायदे
गन्ने का रस पीने के 9 फायदे // Nine benefits of sugarcane juice
अचार खाने के फायदे -
कमजोर हड्डियों को मजबूत कैसे बनायें
काली खांसी को घरेलु उपाय द्वारा कैसे दूर करें
आँखों की जलन से छुटकारा कैसे पायें
शरीर से विषैले पदार्थ को निकलने के नौ आसान उपाय
पायरिया को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे दूर करें
हाथ पैर में दर्द तथा सूजन के घरेलु उपचार
आँखों की अत्यधिक लालिमा को घरेलु नुस्खों द्वारा कैसे ठीक करें
टेढ़े - मेढ़े दांतों को कैसे ठीक करें
हिचकी को घरेलु उपायों द्वारा कैसे रोकें
जायफल के बेहतरीन फायदे
News Reporter

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *